Dhan Prapti ke Totke or Upaye Vastu Shastra Ke Davara

धन प्राप्ति के लिए वास्तु शास्त्र के सरल टोटके

Vastu ka prabhav kisi bhi vayakti mki disha or dasha dono ko badal skta hai. Kayi baar vayakti vyakti nivas or vyavsay sthala me anek prakar ki smasyayo ka samna krne lgta hai. Ghar me dhan ki kami, dampatya jivan me kalesh or katuta utpann hone lgti hai. Ghr ka vatavaran jehar saman ho jata hai. Vyavsay me bhi akaek bhari ghate ki sthiti utpann ho jati hai. Bite kal tak acchi unnti krta vyavsay achanak preshanio se ghir jata hai. aay me kami ho jati hai, vyarth ke vyay bad jate hai. Svayam ko bnaye rkhne ke liye karj ka aashray lena padta hai. Achanak is sthiti me akar vyakti reh jata hai.

 

Veh isse niklne ke prayas krta hai par sabhi nishfal ho jate hai. Issse veh sochne par majbur ho jata hai ki kahi us par kisi shatru ne tone totke ya jadu to nhi krava diya hai. Is trah ki soch se veh fir se naye upay or totke me lag jata hai. Par vastav me is sthiti ke liye koi or karan jimedar na hokar ghar ka ya vyavsay ka bhigda avam dosh puran vastu hi hota hai par is tarah kisi ka bhi dhayan nhi jata hai or veh lagatar lambe samay tak is shapit avastha ko bhogne ke liye vivash rehte hai.
Hmare best astrologer Arun Kumar ji ko apko vastu shastra ke dhan prapti ke totke or upay btayege jiske krne se apko dhan ki kami nhi rhegi or na hi ghar me kaleh laesh hoga.
* Ghar ka sabse bada vastu dosh ghar ke mukhya dvar se shuru ho jata hai. Aap apne ghar ya karyalay ke mukhya dvar par ye jarur dhyan de ki drwaje ke thik samne koi rukawat, kude ka dher. Ped, bheta pani, mandir ki chaya athva dusre bhavan ka kon athva koi vastu na ho. Aisa hone par ghar me nkaratmak urja ka adhik pravesh hota hai. Yadi apke mukhya dvar par aisa hota hai to mukhya dvar par “Pakva Miror” lgaye.
* mukhya dvar ke andar or bahar shree Ganesh ki pratima lgaye to nakaratmak urja smapat hone lgti hai or maa lakshmi ke pravesh ka marg prashast hota hai.
* ghar ke neritya kon (pashchim va dakshin ka kona) me “Sidh Vastu Dosh Nivarak Yantra” avashy lgaye. Iske prabhav se apke nivas athva vyavsayik stahal ke anjane vastu dosh svatah hi smapat ho jayege.
* ghar ya office ke “Ishan Kon” me devi devatao ki tasvir lgakar roj puja kre. Us jagah ki niyamit rup se safai krte rehna chahiye kyuki maa lakshmi ka nivas vahi hota hai jaha par saf safai ho or puja bhi ho.
* apne ghar ya office eke puja sthal me abhimantrit “shree yantra” ya “Kuber Yantra’ jrur rkhe, kyuki maa lakshmi ka vachan hai ki jis sthan par abhimantrit “Shree Yantra” ki puja archana hogi vaha unhe rukna hi hoga.

Navratri ke Upay or Totke


नवरात्री पर करे ये उपाय बनेगे धनी

 

Is saal chaitra navratre 28 march se shuru ho kar 5 april tak chlege. Navratri me maa aadshakti ke 9 swarupo ki puja ki jati hai. Phle navrate me Maa Shailputri ki puja ki jati hai. Dusre navratre me Maa Brahamcharni ki puja ki jati hai. Tisre navratre me Maa Chandarghanta ki puja ki jati hai. Chothe navratre me Maa Kushmanda ki puja ki jati hai. Panchve navratre me Maa Skandmata ki puja ki jati hai. Chatthe navratre me Maa Katyayani ki puja hoti hai. Satve navratre me Maa Kaalratri ki puja ki jati hai. Athve Navratre me Maa Mahagauri ki puja ki jati hai. Nave navratre me Maa Sidhhidatri ki puja ki jati hai.
Navratri me har koi maa durga se apne liye sukh shanti ki kamna krta hai or isi kamna ki purti ke liye navratri ke nou din vart rkhta hai. Navratri ke kuch aise hi upay or totke hai jiske krne se apko maa durga ki kripa milti hai. Ye navratri ke achuk or chamatkari upay or totke hai, jiske bare me hmare best astrologer Arun Kumar ji apko btayege. Ye navratri ke upay or totke bade kargar or shaktishali hai.
धन बढ़ाने हेतु नवरात्री के टोटके और उपाय
* Agar aapke ghar me dhan ki samsya hai ya apke ghar me barkat nhi hai to navratri me is upay ko avshy kre apko dhan labh hoga. Ek pipal ka patta le or us par prabhu shree ram ka naam likhe. Hanuman ji ke mandir jaakar ye patta kisi mithi vastu ke sath hanuman ji kea age rakh de. Is upay pure navratri kre apko avashya hi dhan labh hoga.
* dusra upay. Bhagwan bhole nath ka puja archna vidhivat rup se kre or unko chawal or bilavpatra chadaye. Apko dhan labh hoga.
जल्दी विवाह के लिए नवरात्री का उपाय और  टोटका
Jin bhi ladke-ladkio ki shadi me vilambh ho rha hai vo is navratri me is upay ko avshya kre. Navratri me apne ghar ke puja sthal me bhagwan shiv or maa parvati ka chitra rkhe or unki puja pure vidhi sahit kre. Iske baad niche diye gye mantra ka 3, 5 ya 10 mala jaap kre. Jaap ke baad bhagwan shiv Shankar se vivah me aa rhi rukawato ko dur krne ki prarthan kre. Is upay se apke jaldi hi shadi hone ke aasar bad jayege.
Mantra: ऊँ शं शंकराय सकल-जन्मार्जित-पाप-विध्वंसनाय, पुरुषार्थ-चतुष्टय-लाभाय च पतिं मे देहि कुरु कुरु स्वाहा।।
Hmare world famous best astrologer Arun kumar ji apko har tarah ki shahyta krege. Ve free astrology bhi dete hai. Aap unse bat avshya kre kisi bhi samsya ke liye. +91-76000-00069

Holi Ke Achuk Totke, Upay in Hindi

आजमाएं होली के अचूक और बेहद सरल टोटके और उपाये

Holi hinduo ka sabse aham or mahatvpuran tyohar hai. Holi un logo ke liye bahut hi mahatavpuran ho sidhio ko sidh krne ki iccha rkhte hai. Holi ke din kiye gye upay or totke bahut hi jaldi safal hote hai or atifaldayi hote hai. Kintu totko ka prayog krte waqt savdhaniya jrur rkhe anytha zara si galti apko manchaha labh lene se rok skti hai. Aaj hmare best astrologer apko btayege kuch behad hi sadharan or aasan lekin achuk upay or totke.

 

  • Manokamna ki purti hetu aap Hanuman ji ko holi ke din 5 lal pushap chadaye. Isse apki manokamna jaldi hi puri hogi.
  • Holi ki subah kisi bhi shiv ji ke mandir jaye or vha jakr safed chandan se belpatar par bindi lga de or apni manokamna mann hi mann bolte huye shiv Shankar ji ko puri shardha or sacche mann se chada de or sath hi panchmeve ki kheer bnakar bhagwan bhole nath ko bhog lgaye.
  • Manchahi naukri pane ke liye holi ke din is upay kre avashy hi apki rojgar ki iccha puri hogi. Holi ki raat 12 bje se thik phle ek bada nimbu le par nimbu daag rahit ho. Ab kisi bhi chorahe par jaye or us bade nimbu ke char bhag karke charo dishao me fenk de. Fir apne ghar vapis aa jaye magar jab aap vapic aa rhe ho to piche mud ken hi dekhna.
  • Apka business or badia chle iske liye holi ke din ye upay avash kre. Is din gulal ka ek pekat le. Use khol kar usme ek shankh or ek chandi sikka dal de. Fir is packet ko naye lal kapde me lal moli se bandhkar apni tijori me rkh de. Apke business vridhi hogi.
  • Apne vyapar ko badane ka or ek totka hai. Holi vale din ek Akakshi nariyal le aaye or ise lal kapde me bandh de. Fir is nariyal ko apni dukan ya vyapar sthal par sthapit kar de. Iske sath hi sfatik ka shudh shreeyantra bhi rkhe. Is upay ko puri nishtha or vishvas se kre apko avashy labh milega.

Holi ke din kyi aise vashikaran totke bhi sidh kiye ja skte hai jiska upyog aap kisi ko bhi vash krne me kar skte hai. In totko ke bare me janne ke liye aap hmare vashikaran speciliast se baat kar skte hai.

Vashikaran Ke Chamatkari or Achuk Totke, Upay

आज हमारे Vashikaran Specialist Arun Kumar जी आपको वशीकरण के अचूक उपायें और टोटके बतायेगे जो बहुत ही कारगर और सिद्ध है। इसके करने से आप किसी को भी अपने वश में कर सकते है। प्रयोग करते वक़्त सावधानियों का अवश्य ध्यान रखे अन्यथा आपको हानि हो सकती है।

* हरिवास, असगंध को केले के रस में गोरोचन सहित घिसकर तिलक करने पर वशीकरण होता है।

* सफ़ेद दूब और बरकी हरताल को पीसकर तिलक करने से जग मोहित हो जाता है।

* गूलर के फूल की बत्ती बनाकर., रात्रि को सफेद माखन से जलाये और उसका काजल पर कर तिलक करने से जग मोहित हो जाता है।

* सफेद घुंघुंची के रस में ब्रह्मदंडी की जड़ को पीसकर शरीर पर लेप करे तो सब मोहित हो जाते है।

* छाया में सहदेई को सूखा ले, फिर उसके चूर्ण को पान में खिलाने से खाने वाला वश में हो जाता है।

* जो अपने मस्तक पर गूलर की जड़ को घीसकर तिलक लगता है , वह सबको प्रिय लगता है ।

* पान में औदुंबर की जड़ रखकर जिसे खिला दे वही वश में हो जाता है।

* आर्द्रा नक्षत्र में तालाब के पास जाकर एक ही डुबकी में नीचे से मिटटी ले आए, उस मिटटी को जिस औरत के मस्तक पर डाले, वह वशीभूत हो जाएगी।

* पुष्य नक्षत्र में धोबी के पाँव की मिटटी लेकर रविवार के दिन संध्या के समय थोड़ी सी स्त्री के मस्तक पर डाले तो वह वशीभूत हो जाएगी।

* काजकँघा, केसर तथा मैनसिल को सिद्धि योग में जिस स्त्री के सिर पर डाला जाता है, वह वश में हो जाती है।

* कमल पत्र पर गोरोचन से साध्य स्त्री का नाम लिखे और फिर गोरोचन का तिलक शनिवार को करे तो वह स्त्री निश्चित रूप से वश में हो जाती है।

* पान के रस में तालमखाना और मैनसिल को पीसकर मंगलवार को लगाए तो स्त्री शीघ्र वशीभूत हो जाती है।

* काला नमक, भंवरे के दोनों पंख, तगर मूल, सफ़ेद कौआ गोड़ी इन सबका चूर्ण बनाकर स्त्री के सिर पर डाले, वह वशीभूत हो जाती है।

* शारद पूर्णिमा को ब्राह्मी का रस, बच और कपिला गाय का घी, इन तीनो को बराबर-बराबर मिलाकर कांसे की थाली में फैलाकर रखे। इसके ऊपर अष्टगंध से ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं ब्लून वद वद वाग्वादिनी लिखकर चंद्रमा के प्रकाश में रात भर उस थाली को एक ऊँचे पाटे पर विराजमान कर रखे, प्रतिदिन थोड़ा थोड़ा खाए तब बुद्धि बढ़ती रहती है।

* सरसो और देवदार को एकत्रित कर गोली बनाएं और अपने मुख में रखकर वार्तालाप करे, तो दूसरा व्यक्ति वशीभूत हो जाता है।

* सहदेवी के रस में तुलसी के बीजों का चूर्ण घोटकर, रविवार के दिन तिलक लगाने से साधक जगत को मोहित करता है।

वशीकरण के और भी कई ऐसे टोटके और उपाये है जिसके करने से आप किसी को भी वशीभूत कर सकते है। अगर आप और अधिक जानकारी चाहते है तो आप हमारे Best Astrologer अरुण कुमार जी से बात कर सकते है।

Mahavashikaran Mantra Prayog

महावशीकरण मंत्र प्रयोग

आज हम आपको कुछ ऐसे महावशीकरण मंत्रो के प्रयोग के बारे में बतायेगे जिसके करने से आप जिसे चाहेअपने वश में कर सकते है ।

प्रयोग करते वक़्त सावधानियो का जरूर ध्यान रखे अन्यथा आपके द्वारा किया जाने वाला प्रयोग निष्फल होसकता है । वशीकरण बिना मंत्रो के सही उच्चारण से नहीं हो सकता । इसलिए Vashikaran Mantra काउच्चारण सही साफ़ और स्पष्ट हो अन्यथा आपको इच्छीत फल की प्राप्ति नही होगी ।

वशीकरण मंत्र विधि सहित Vashikaran Mantra Vidhi Sahit

किसी भी शुभ शनिवार से प्रारम्भ करके शनिवार तथा रविवार को रात्रि में 101 बार निचे लिखे मंत्र जपे । मंत्रजप के समय दीपक जलता रहे और गूगल की धूनी दे । फूल और मिठाई प्रसाद के रूप में चढ़ाएं । इस मंत्र से 7बार अभिषिक्त करके इच्छित स्त्री या पुरुष को खिला दे, वह वशीभूत हो जायेगा । मंत्र इस प्रकार है –

हाथ पसारुं मुख मलूं,

काची मछली खाऊं

आठ पहर चोंसठ घड़ी,

जग मोह घर जाऊ

किसी भी शनिवार को आरम्भ करके 21 दिनों तक लगातार रत में शुद्ध होकर बैठे । फिर दीपक जलाकर औरलोबान की धूनी देकर आगे दिए गए मंत्र को 144 बार जपे| इस तरह से मंत्र सिद्ध हो जाता है| बाद में किसी भीसोमवार के दिन कोई पुष्प लेकर उस पर निम्न मंत्र पड़ते हुए 21 बार फंक मारे| वह फूल अभीष्ट व्यक्ति कोसुंघाने पर वह साधक के प्रति सम्मोहित  हो जायेगा । मंत्र इस प्रकार है –

नमो आदेश गुरु का

एक फूल फूल भर दोना

चोंसठ योगिनी ने मिल किया टोना

फूल फूल वह फल जानी

हनुमंत वीर घेर घेर दे आनी

जो सूंघे इस फूल की बास

उसका जी प्राण हमारे पास

सोती होये तो जगाय लाव

बैठी होये तो उठाय लाव

और देखे जरे बरे,

मोहि देखि मोरे पायन परे

मेरी भक्ति, गुरु की शक्ति

फुरो मंत्र ईश्वरी वाचा

वाचा वाची से टरे

तो कुम्भी नरक में परे|

किसी भी शुभ रविवार को पूजा के लिए सुपारी, पान, लौंग, पुष्प, मिठाई, दीपक, गूगल या अगरबती तथा घीखरीद लाये । फिर स्नान करके पूजा करे । तत्पश्चात यह सामग्री एक एक करके पान पर चढ़ाये और धुप दीपदेकर आग जलाये| इसके बाद मंत्र बोलते हुए 1-1  पुष्प को घी में डुबोकर हवन करते रहे । 108 पुष्पो कीआहुति देकर, पुनः मंत्र का 108 बार जप करे । यह क्रिया २१ दिनों तक करे । बाइसवें दिन सामर्थ्य के अनुसारब्राह्मणों को भोजन कराये और दक्षिणा दे । पूरी साधना अवधि में ब्रहम्चर्य से रहे ।

इस प्रकार मंत्र सिद्ध हो जायेगा । किसी को अपने प्रति वशीभूत करने के लिए किसी सुगन्धित पुष्प पर 7 बारमन्त्र पढ़ कर फूंक मारे । इसतरह वह पुष्प मंत्राभिषक्ति हो जायेगा । ऐसा मंत्र-सिद्ध पुष्प यदि अभीष्ट व्यक्ति(नर या नारी) को सुंघाया जाए तो वह साधक की ओर वशीभूत हो जाएगी । मंत्र इस प्रकार है –

कामरु देश कामाख्या देवी

तहां बसै इस्माईल जोगी

इस्माईल जोगी ने बोई बारी

फूल उतारे लोना चमारी

तीजे फूल हंसे, दूसरा विगसे

तीजे फूल में छोटा बड़ा नाहरसिंह बसे,

जो सूंघे इस फूल की बास

सो आवै हमारे पास

और के पास जाय

हियो फाट मर जाय

मेरी भक्ति, गुरु की शक्ति

फुरो मंत्र ईश्वर वाचा

 

इन मंत्रो को सिद्ध करने के बाद आप जिस पर भी इसका प्रयोग करेगे वो आपके वश में हो जायेगा । मगरसावधानी जरूरी है इसलिए सिद्ध करते वक़्त पूर्ण सावधानी रखे । वशीकरण मंत्रो की और अधिक जानकारी हेतु आप हमारे Vashikaran Specialist Arun Kumar जी से बात कर सकते है या आप किसी को वश में करना चाहते है तो आप उनकी सहायता ले सकते है ।

Mahashivratri Ke Upay, Totke, Mantra in Hindi

भगवान  शिव तीनो लोको के मालिक है| भगवान शिव का सबसे बड़ा त्यौहार और सबसे बड़ा दिन महाशिवरात्रिहै| ऐसे कहते है कि महाशिवरात्रि ही एक ऐसा दिन है जिसदिन भोले शंकर पृथ्वी लोक में जितने भी शिवलिंग हैउन सभी में विराजमान होते है| भोले बाबा हर एक की मनोकामना को पूर्ण करते है| भगवान भोले बाबा तो हरएक की मनोकामना बहुत ही जल्दी पूरी कर देते है तभी तो इनको भोले नाथ कहते है ओट अगर दिन महाशिवरात्रि का हो तो भोले बाबा को प्रसन्न करना और भी आसान हो जाता है क्योंकि महाशिवरात्रि इनका प्रियदिन जो है| Free Astrology – Astrologer Home

shivshankar

वैसे तो भगवान शंकर हर एक मनोकामना पूर्ण करते है पर आज हम धन संबंधी परेशानियो को भोले बाबा कैसेदूर करते है उसके बारे में बतायेगे|  अगर आप धन की परेशानियो से विचलित है का आपका स्वास्थ्य अच्छानही चल रहा या आप लंबी आयु के लिए चिंतित है तो महाशिवरात्रि के इस पावन अवसर भगवान  भोले बाबा कोप्रसन्न करके उसने धन और आयु वृद्धि का आशीर्वाद दिलाने वाले इन चमत्कारी टोटके, उपाये का उपयोग करेआपको अवश्य ही मनवांछित फल की प्राप्ति होगी|

महाशिवरात्रि में चार प्रहर की पूजा का खास महत्व है| शिवपुराण में भी इस दिन शिव जी की चार प्रहर पूजाकरने का बहुत बड़ा महत्व बताया गया है| इस दिन सुबह, दोपहर, शाम और रात इन चारो प्रहर में रुद्राष्टध्यायीपाठ करे और साथ में भगवान भोले को अलग अलग चीज़ों से जैसे कि दूध, गंगाजल, शहद, दही या घी सेअभिषेक करे| इससे भोले बाबा शीघ्र प्रसन्न होते है।

महाशिवरात्रि के दिन रुद्राक्ष धारण करना भी बहुत ही महत्वपूर्ण है| रुद्राक्ष को मुखों के आधार पर कई मुखों मेंबांटा गया है| धन और स्वास्थ्य संबंधी परेशानियो के लिए 6 मुखी रुद्राक्ष को इस दिन शिवलिंग से स्पर्श करा केधारण करे| इससे रुद्राक्ष का प्रभाव जल्दी ही पड़ने लगेगा|

भोले बाबा का वास शिवलिंग में होता है और शिवलिंग की पूजा से भोले शंकर जल्दी प्रसन्न होते है| स्फटिक काशिवलिंग सबसे उत्तम होता है| इसे आप घर में स्थापित कर सकते है| शिवलिंग को घर में स्थापित का करने कासबसे पावन दिन महाशिवरात्रि है| इसकी नियमित पूजा करे| स्फटिक शिवलिंग के घर से होने से घर की सारीनकारात्मक ऊर्जा समाप्त  हो जाती है और घर में धन और सुख में आने वाली बाधाएं दूर हो जाती है| स्फटिकशिवलिंग वास्तु के दोष भी खत्म करता है|

ऐसे और भी उपायो और टोटको के बारे में जानकरी हेतु आप हमारे Best Astrologer – Arun Kumar Ji से बात कर सकते है|

Best Astrologer Arun Kumar

+91-76000-00069

astrologerhomes@gmail.com

www.astrologerhome.com

Guruvar Brihaspati ke Totke, Upay| Guruvar ke Kre Ye Upay Milega Dhan Badega Maan

गुरुवार को करें ये उपाय मिलेगा धन बढ़ेगा मान

Guruvar ka din Guru Brihaspati ka hota hai or guru yani ke Brihaspati ko dhan ka karak mana jata hai| brihaspati ji ki kripa se hi vivah ka yog bnta hai| Kundli me brihaspati ki stithi ka prabhav vevahik jivan par bhi padta hai| Guru agar ucch ho to apka jivan sukhmay or chintarahit hoga or apko dhan ki bhi preshani nhi hogi|Agar aap dhan ki kami ki sasmsya se preshan hai to app guruvar ko in upayo ka prayog kre apko bahut labh milega. Jyotish vighyan me kyi aise guruvar ke totke, tips or upay jo apke jivan sukhad bna skte hai| Hmare best Astrologer – Astrologer Home apko btayege kuch aise upay jske karne se apki preshnio ka hal hoga|

 

गुरुवार के टोटके, उपाय, टिप्स

Guruvar ko suryoday se pehle uth jaye or snanaadi se nivart hokar Vishnu ji ka dhyan krte huye unke samne ghee ka diya jlakar unki puja kre or sath hi Vishnu sahastranaam ka path kre| Fir sham ke waqt kele ke vriksh ke niche dia jalakar laddu ya besan ki mithayi chadaye or bad me bant de| isse apki preshanio ka nash hona shuru ho jayega.

Guruvar ke din Vishnu bhagwan ki puja ke bad kesar ka tilak lgaye| agar kesar uplabhd nhi hai to aap haldi ka tilak bhi lga skte hai| Tilak lgane ke bad apne kam ki shuruat kre|

Guruvar ko kbhi bhi kisi ko paisa udhar na de| jitna ho ske paiso ke len den se bache|Guru ko dhan ka karak mana jata hai or guruvar ko dhan dene se apka guru kamjor hota hai or arthik preshania ati hai|

Guruvar ke din apne mata pita or guru ka ashirvad le|Inka ashirwad guru greh ka ashirwad mana jata hai| aap inhe uphaar savroop pile rang ke vastra de jisse ki ye prasann ho jaye|

Har greh se koi na koi vastu judi hoti hai or inka daan krne se apko kyi trah ki preshanio se mukti milti hai|Isliye guruvar ko guru se sambandhit pili vastuyo ka daan krna chahiye jaise ki sona (Gold), Haldi, chane ki daal or aam (Mango) aadi.

Agar apki kundli me guru dosh hai to apko dhan sambhandi preshania ho skti hai| guru dosh ke nivaran ke liye ye upay kre| har guruvar bhagwan Shankar ko besan ke laddoo ka bhog lgaye or guruvar ko upvas rkhe|

Guru ka mantra ke jaap se bhi guru dosh ka nivaran ho jata hai isliye guru mantra ka jaap kre or jaap sankhya kam se kam 108 ho| Mantra: Om Brim Brihaspatye Namah

Aise hi kyi or upaye janne ke liye hmare vashikaran specialist – Arun Kumar ji se sampark kre|